युवती को प्रेम जाल में फंसाकर दिया धोखा, बाद में शरीर के टुकड़े करके ले ली युवती की जान

0

पंजाब -लुधियाना बीकॉम पास युवती की हत्या के मामले में अब एक साल बाद प्रेमी कहानी का एक दिल दहला देने वाला खुलासा हुआ है। इस खुलासे को सुनकर खुद पुलिस अधिकारी भी दंग रह गए थे।

दरअसल, युवती बीकॉम करने के बाद लुधियाना की एक निजी कंपनी में जॉब करती थी। जहां उसकी मुलाकात एक युवक से हुई थी। इसी बीच शाकिब ने अमन बनकर युवती को प्रेम जाल में फंसाया और फिर उसे अपने गांव ले आया था। जिसके बाद युवती द्वारा शादी की जिद करने पर उसे बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया।

निर्दयी शाकिब ने पहले दोस्त के साथ मिलकर युवती का सामूहिक दुष्कर्म किया फिर उसके बाद युवती का धड़, हाथ और पैर काट कर अलग कर दिया था।

दौराला में करीब एक साल पहले हुई युवती की हत्या का आरोपी मंगलवार को एक सिपाही को गोली मारकर पुलिस कस्टडी से फरार हो गया।

एसएसपी की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद पुलिसकर्मी उसे मेडिकल के लिए ले जा रहे थे। इसके कुछ समय बाद मुठभेड़ में आरोपी धरा गया। आरोपी को भी गोली लगी। पुलिस ने हत्या के आरोप में छह आरोपियों को गिरफ्तार किया है जिसमें दो महिलायें भी शामिल है।

एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि 14 जून 2019 को दौराला के लोहिया गांव में 19 साल की एक युवती का शव शबी अहमद के खेत में दबा मिला था।

युवती मूल रूप से डेहरा कांगड़ा, हिमाचल प्रदेश की रहने वाली थी। वह बीकॉम करने के बाद लुधियाना की एक कंपनी में नौकरी करती थी। युवती के परिजन भी लुधियाना पंजाब में रहने लगे थे। उसी दौरान युवती की मुलाकात दौराला थाना क्षेत्र के लोहिया गांव में रहने वाले शाकिब पुत्र मुस्तकीम से हुई।

शाकिब लुधियाना में कपड़े बेचने का काम करता था। फिर अच्छी नौकरी लगवाने की बात कहकर शाकिब ने अमन नाम से युवती से दोस्ती कर ली। शाकिब ने युवती को झांसे में लेकर उसके घर से 25 लाख की नगदी और 15 तोला सोना मंगवा लिया। उसके बाद युवती को लेकर फरार हो गया। जून 2019 में शाकिब युवती को अपने गांव लाया और परिजनों के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी।

इसके अलावा पुलिस ने बताया कि युवती की हत्या में आरोपी शाकिब, उसका पिता मुस्तकीम, शाकिब का भाई मुसरत, मुसरत की पत्नी इस्मत, नावेद भाई की पत्नी रेशमा , दोस्त अयान पुत्र रमजान निवासी लोहिया गांव शामिल थे। पुलिस ने सभी आरोपियों को अपनी गिरफ्त में ले लिया है। हत्या में इस्तेमाल हुआ बलकटी, एक फावड़ा और युवती का मोबाइल बरामद किया गया है।

युवती को जान से मार डालने के बाद भी शाकिब युवती के परिजनों को धोखा देता रहा। वह युवती के मोबाइल से लगातार उसके परिजनों से व्हाट्सएप और फेसबुक के जरिए बात करता रहा।

साथ ही साथ समय समय पर युवती की डीपी भी बदलता रहता था। युवती की मां ने कई बार बेटी से मिलने के मैसेज किए, लेकिन वह कोई न कोई बहाना बनाकर टाल देता था। शाकिब ने एक साल तक इस बात को छुपाये रखा था।

शाकिब लुधियाना में दिलशाद नाम के युवक के साथ रहता था। उसने युवती के घर के पास ही किराए पर कमरा ले रखा था। शाकिब और युवती के बीच करीब तीन महीने प्रेम प्रसंग चला।

किसी बात को लेकर रूम पार्टनर दिलशाद से विवाद हुआ तो शाकिब करनाल चला गया। वहां उसने तंत्र मंत्र का काम शुरू किया। बाद में युवती को भी करनाल बुला लिया और साथ में रहने लगा। युवती द्वारा शादी की जिद करने पर शाकिब युवती को गांव ले गया था।

सीओ दौराला जितेंद्र सरगम के मुताबिक युवती का धड़ और हाथ अलग- अलग स्थान पर दबा मिला था। पुलिस के अनुसार, साकिब ने युवती की हत्या के बाद उसके हाथ, पैर और सिर काटकर अलग कर दिए थे। उसके अंगों को अलग-अलग जगह जमीन में दबा दिया।

इस दौरान आरोपी अपना बयान बार बार बदलता रहा। बताया गया कि जिस हाथ को आरोपी ने काटा था उसी हाथ पर युवती का नाम लिखा हुआ था।

घटनास्थल से साइबर सेल की टीम ने बीटीएस उठाया था, जिसमें एक नंबर लुधियाना का मिला। पता चला कि गांव के कुछ युवक लुधियाना में नौकरी करते हैं। पुलिस ने लुधियाना से युवती की गुमशुदगी की जानकारी हासिल की। इसमें युवती के नाम की दो लड़कियों का पता चला। इसके बाद उनके परिजनों से संपर्क किया गया। इस पर एक युवती के घरवालों ने बताया कि अमन नाम का एक तांत्रिक उनकी बेटी को अपने साथ ले गया है। युवती के घरवालों ने अमन का फोटो भी पुलिस को दिया। पुलिस ने फोटो के माध्यम से दौराला में युवक की तलाश शुरू की तो पता चला कि वह लोहिया गांव का शाकिब है।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और खबरें