बीबी फातिमा फॉउंडेशन ने 8 गरीब परिवारों को दिए बर्तन और कपड़े

0


लखनऊ। बीबी फातिमा फॉउंडेशन विगत कई वर्षों से गरीबों, बच्चों, बेसहारा की जिंदगी में खुशियों के रंग भरने की कोशिश कर रही है। इस संस्था के प्रयास और सहयोग से हजारों वंचित समाज की मुख्य धारा से जुड़कर जीवन व्यतीत कर रहे हैं। बता दें कि डॉक्टर गुंचा खान ने समाज सेवा को अपने जीवन का मकसद बना लिया है। मुंशी प्रेमचंद की कालजयी रचना है ईदगाह इस कहानी का मुख्य पात्र मासूम बच्चा व हामिद अपनी विधवा दादी अमीना को रोटी सेंकने के लिए चिमटा खरीदकर देता है। चिमटा खरीदने के लिए वो उन पैसों को खर्च कर देता है जो पैसे दादी ने मेले में खाने-पीने नं के लिए दिए थे।

बीबी फातिमा फॉउंडेशन ने 8 गरीब परिवार की
महिलाओं को रसोई में इस्तेमाल होने वाले बर्तन उपहार में दिए तो ईदगाह की कहानी की अमीना का आँचल फैलाकर हजारों दुआएं देती चेहरा सामने आ गया। बर्तन के बगैर रसोई अधूरी है।

डॉक्टर गुंचा खान ,मोहम्मद अमान खान, रफ़त
खान ने गरीब महिलाओं की दिक्कत को ध्यान में रखते हुए विकास नगर क्षेत्र के 8 जरूरतमन्द परिवारों को वर्तन और कपड़े देकर लाभान्वित किया। मदद पाकर महिलाओं ने बीबी फातिमा फॉउंडेशन को ढेरों दुआएं दिया। डॉक्टर गुंचा खान ने कहा कि हमारी संस्था समाज के वंचित तबके के साथ कंधे से कंधा मिलाकर सदैव खड़ी रहेगी।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और खबरें