अदनान सामी के पदमश्री पर सियासी घमासान

0

साहित्य के क्षेत्र मिलने वाले पद्मश्री की इसबार जैसे ही घोषणा हुई वैसे ही कांग्रेस के बाद अब बसपा सुप्रीमो मायावती ने कुछ ऐसा बयान दे दिया की वो चर्चा में आ गयीं। दरअसल पद्मश्री मिलने वालों में इस बार पाकिस्तान के मूल निवासी गायक अदनान सामी का नाम भी शामिल है। जिसको लेकर बसपा सुप्रीमो मायावती भड़क उठी। बसपा सुप्रीमो मायावती ने पाकिस्तान मूल के गायक अदनान सामी को भारत की नागरिकता देने पर बयान देते हुए ट्वीट किया। मायावती ने ट्वीट में लिखा, ‘पाकिस्तानी मूल के गायक अदनान सामी को जब बीजेपी सरकार नागरिकता व पद्मश्री से भी सम्मानित कर सकती है तो फिर जुल्म-ज्यादती के शिकार पाकिस्तानी मुसलमानों को वहाँ के हिन्दू, सिख, ईसाई आदि की तरह यहाँ CAA के तहत पनाह क्यों नहीं दे सकती है? अतः केन्द्र CAA पर पुनर्विचार करे तो बेहतर होगा।’

मायावती के इस बयान से पहले भी इस मामले में कांग्रेस के नेता जयवीर सिंह और अदनान सामी के बीच ट्वीटर पर जुबानी तकरार हो चुकी है। अदनान सामी को पद्मश्री मिलने की घोषणा को लेकर जयवीर सिंह ने रविवार को लिखा कि ‘भारत पर गोलाबारी करने वाले पाकिस्तानी वायुसेना अफसर के बेटे को पुस्सकार क्यों दिया जा रहा है?’

वहीं भाजपा लगातार इस पर अदनान का समर्थन कर रही है।भाजपा नेता संबित पात्रा ने प्रेस कांफ्रेंस कर अदनान सामी को पद्मश्री दिए जाने के मामले में कहा,” विपक्ष अदनान को पद्मश्री देने का इसलिए विरोध कर रहा है क्योंकि उनके पिता पाकिस्तानी वायुसेना में थे। अगर ऐसा है तो कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के पिता तो तानाशाह मुसोलिनी और हिटलर से जुड़े थे, फिर उन्हें भारत की नागरिकता क्यों दी गई?”


मीडिया पर आम यूजर्स के साथ ही नेता भी गायक अदनान सामी की दावेदारी पर सवाल खड़े कर रहे हैं। इस पर अदनान सामी का की प्रतिक्रिया समाने आयी है। न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए गायक अदनान ने कहा, ‘जब कांग्रेस सत्ता में थी, तब उन्होंने मुझे अवॉर्ड दिया। तब मैं एक पाकिस्तानी नागरिक था। अब, इस सरकार ने मुझे एक अवॉर्ड दिया है। मैं सबको प्यार करता हूं। इसमें कोई राजनीति नहीं है। उनका (विरोधियों) एजेंडा कुछ और है। वे सिर्फ अपनी हताशा को हवा देने के लिए इस मुद्दे को उठा रहे हैं। उन्हें ऐसा ही करना चाहिए। मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता।’आगे अदनान सामी कहते है,’मैं खुश और सम्मानित महसूस कर रहा हूं कि मुझे एक बड़े पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। मैं लोगों का शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने मुझे और मेरे संगीत को पसंद किया। मैं भारत सरकार को भी शुक्रिया कहना चाहूंगा। यह पुरस्कार मेरे और मेरे परिवार के लिए गर्व की बात है।’

आपको बता दें की अदनान सामी को वर्ष 2016 में भारतीय नागरिकता प्राप्त हुई है। याद रहे कि अदनान सामी ने सुन ज़रा ,चोरी चोरी ,तेरा चेहरा जैसे कई सुपरहिट गाने बॉलीवुड को दिए है।
अदनान सामी के साथ पद्मश्री मिलने वालों की लिस्ट में कंगना रनोत ,एकता कपूर और करण जौहर जैसे दिग्गजों का नाम शामिल है।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और खबरें