झांसी: इंटरमीडिएट की परीक्षा ने नहीं बल्कि प्रवेश पत्र ने छीन ली छात्रा की ज़िन्दगी

0

कुछ ही दिनों में इंटरमीडिएट की परीक्षा आने वाली है। उससे पहले ही एक छात्रा ने फांसी लगाकर अपनी ज़िन्दगी ख़त्म कर ली। दरअसल छात्रा अपने इंटरमीडिएट के प्रवेश पत्र के न मिलने से काफी परेशान थी। जिसके चलते उसने ये दर्दनाक कदम उठा लिया। इस घटना के बाद परिवार में मातम छा गया।

यह घटना सीपरी बाजार थाना क्षेत्र के अंतर्गत शिवपुरी रोड पर स्थित महात्मा हंसराज पब्लिक स्कूल की है। शहर क्षेत्र में रहने वाले दिगंबर जैन महासमिति के मंत्री राजेंद्र जैन की पुत्री खुशी महात्मा हंसराज पब्लिक स्कूल में इंटरमीडिएट की छात्रा थी। इंटर की छात्रा खुशी को विद्यालय द्वारा प्रवेश पत्र नहीं दिया जा रहा था। इससे खुशी बहुत परेशान थी। मानसिक रूप से परेशान खुशी ने कल रात अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। आज सुबह परिजनों ने उसकी लाश फंदे पर लटकती देखी।

परिजन स्कूल प्रबंधन के खिलाफ भड़क गए और आक्रोश के चलते परिजन छात्रा का शव लेकर स्कूल पहुंचे और स्कूल परिसर में ही ख़ुशी का शव रखकर प्रदर्शन करने लगे। इस मामले की सूचना मिलने पर कई थानों की फोर्स मोके पर पहुंची। विद्यालय में हंगामा होने की स्थिति की सूचना मिलते ही पुलिस विद्यालय परिसर मौके पर पहुंच गई और मामले की छानबीन शुरू कर दी।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और खबरें