रामगोपाल यादव ने उमा भारती के मंदिर वाले बयान पर दिया मज़ेदार जवाब

0
aapka khabri

Ramgopal yadav and uma bharti

समाजवादी पार्टी के नेता प्रोफेसर रामगोपाल यादव ने सोमवार को राम मंदिर पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मंदिर का मामला सुप्रीम कोर्ट में है इसलिए ना तो इसपर कानून बनाया जा सकतै है और ना अध्यादेश लाया जा सकता है । उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि ये सब बातें भाजपा को भी पता हैं लेकिन चुनावी फायदा लेने के कारण वो इस मुद्दे को लाइमलाइट में रखना चाहते हैं.

प्रयागराज के एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे सपा नेता रामगोपाल यादव ने कहा कि राम मंदिर पर सभी को कोर्ट के फैसले का इंतजार करना चाहिए। इतना ही नहीं, कोर्ट से फैसला कुछ भी आए, सभी को उस फैसले का सम्मान भी करना चाहिए।

वहीं, बीजेपी पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि बीजेपी भगवान राम को धोखा देने और सिर्फ चुनावी नजरिए से मंदिर मुद्दे को ज़िंदा रखे हुए है। यादव के मुताबिक बीजेपी ने भगवान राम को वोट बैंक बनाकर रख दिया है और हर चुनाव से पहले मंदिर का राग अलाप कर राम के नाम पर वोट ले लेती है और चुनाव के बाद याद तक नहीं ऱखती ।

इसके अलावा केंद्रीय मंत्री उमा भारती द्वारा अयोध्या में मस्जिद बनने पर हिन्दुओं के असहिष्णु होने के बयान पर उन्होंने कहा कि उमा भारती को यह याद होना चाहिए कि अयोध्या में मस्जिद गिरने के बाद उन्होंने जिस तरह बीजेपी नेता मुरली मनोहर जोशी के कंधे पर बैठकर जश्न मनाया था, उस मुक़दमे में फैसले का भी वक्त आ गया है। उन्होंने कहा कि उमा भारती को कोई भी बयानबाजी करने से पहले यह सोचना चाहिए कि उन्होंने अब तक क्या- क्या कहा और किया है।

 

ये भी पढ़ें:-

उमा भारती: मंदिर के इर्दगिर्द भी मस्जिद बनाने की बात से हिंदु हो सकता है असहिष्णु

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और खबरें