पटियाला: सनौर में सब्जी मंडी के बाहर निहंगों ने किया पुलिसकर्मियों पर हमला, एएसआई का हाथ भी काटा

पंजाब  के पटियाला जिला के सनौर में  रविवार को सुबह करीबन 6 बजे सब्जी मंडी के बाहर निहंगों ने पुलिस पर हमला किया था। हमलावरों ने एक एएसआई का कलाई से हाथ भी काट दिया था। हमले में कई पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं जिनमे से एक मंडी बोर्ड के अधिकारी है इसके बाद पुलिस ने वरिष्ठ अधिकारियों की अगुवाई में ऑपरेशन चलाया और 8 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के पास से काफी हथियार और नशीला पदार्थ बरामद भी बरामद किया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। सूत्रों के अनुसार, निहंग सिख पुलिसकर्मियों पर हमला करने के बाद एक गुरुद्वारे में छिप गए थे और लगातार पुलिस वालों के साथ गाली-गलौज कर रहे थे। पुलिस ने सादे कपड़ों में गांवों के मुखिया से मुलाकात की और फिर पुलिस कुछ धर्म गुरुओं व स्थानीय ग्रंथियों के साथ मिलकर गुरुद्वारे में दाखिल हुई। इसके बाद पुलिस ने गुरुद्वारे पर कब्जा करते हुए 8 आरोपियो को गिरफ्तार किया। गौरतलब है कि आरोपियों के पास से हथियार, जिंदा कारतूस, तलवारें, नशीला पदार्थ और एक पिकअप वैन बरामद की गई है।

इस घटना के बाद पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि निहंग सिख एक गाड़ी से आ रहे थे। उन्होंने लॉकडाउन का उल्लंघन किया था। निहंगों ने सब्जी मंडी के पास लगे बैरिकेड तोड़ दिए। जब पुलिस ने उनसे कर्फ्यू पास मांगा तो उन्होंने पुलिस पर हमला कर दिया। जिसके बाद निहंग गुरुद्वारा साहिब में घुस गए। पुलिस ने हमलावरों से सरेंडर करने के लिए कहा। स्थानीय धर्म गुरुओं व सरपंच की मदद से करीब दो घंटे बाद एक टीम गुरुद्वारे में दाखिल हुई।जिसके कुछ देर बाद सभी आरोपी सरेंडर करने के लिए राजी हो गए। वह तलवारों व चाकू के साथ बाहर निकले। पुलिस ने उनके पास से एक गैस सिलेंडर भी बरामद किया है, जो ब्लास्ट के लिए इस्तेमाल हो सकता था। इस हमले में कई पुलिसकर्मी घायल हुए। निहंगों ने एक एएसआई का हाथ काट दिया। घायल एएसआई का पीजीआई चंडीगढ़ में इलाज चल रहा है।

डीजीपी ने इस घटना के बारे में ट्वीट करते हुए कहा कि ‘आज सुबह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना में निहंगों के एक समूह ने पटियाला की सब्जी मंडी में कुछ पुलिस अधिकारियों और मंडी बोर्ड के एक अधिकारी को घायल कर दिया। हरजीत सिंह, एएसआई जिनका हाथ कट गया, वो पीजीआई चंडीगढ़ पहुंच गए हैं। मैंने पीजीआई के निदेशक से बात की है जिन्होंने सर्जरी के लिए पीजीआई के शीर्ष प्लास्टिक सर्जन को नियुक्त किया है। सर्जरी अभी शुरू ही हुई है। निहंग समूह को गिरफ्तार किया जाएगा और आगे की कार्रवाई जल्द की जाएगी। ‘

घटना में घायल हुए एएसआई के इलाज के बारे में जानकारी देते हुए डीजीपी ने एक और ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा, ‘पीजीआई द्वारा पूर्ण समर्थन दिए जाने को लेकर आभारी हूं। पीजीआई के डायरेक्टर ने मुझे बताया कि दो वरिष्ठ सर्जनों द्वारा सर्जरी शुरू हो चुकी है।वह अपनी ओर से हर मुमकिन कोशिश करेंगे। हम सभी वाहेगुरु से उनके पूरी तरह स्वस्थ होने की प्रार्थना कर रहे हैं।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − three =

You may have missed