टिक टॉक पर लेन देन करते है तो हो जाए सावधान

0

आगरा के सदर क्षेत्र के देवरी रोड निवासी राजेंद्र एक ट्रैवल एजेंसी के मालिक हैं। राजेंद्र के खाते से साइबर अपराधियों के द्वारा 12 हजार रुपये निकाल लिए गए। दरअसल राजेंद्र ने अपने डेबिट कार्ड से टिकटॉक पर एक गिफ्ट के लिए रिचार्ज किया था, जिसके बाद डेबिट कार्ड की जानकारी लीक हो गई और साइबर अपराधियों ने उनके खाते पर अपना हाथ साफ़ कर दिया। पीड़ित ने साइबर सेल में इसकी शिकायत की है। राजेंद्र के मुताबिक, छोटे भाई अरुण दिल्ली में एक कंपनी मे काम करता है। उन्होंने शुक्रवार को अपने दोस्त को टिकटॉक पर गिफ्ट देने के लिए रिचार्ज कराया। इसमें राजेंद्र के डेबिट कार्ड का प्रयोग किया गया था।

टिक टॉक के द्वारा रिचार्ज करने के माध्यम से राजेन्द्र का डेबिट कार्ड के नंबर और पासवर्ड की जानकारी साइबर अपराधियों तक पहुंच गई। इसके कुछ देर बाद उनके खाते से दो बार में 12 हजार रुपये की रकम उड़ा दी गयी। राजेंद्र को इस बात का पता तब चला जब उनके पास रकम निकालने का मैसेज आया । राजेंद्र ने तुरंत ही बैंक के हेल्पलाइन नंबर पर फोन करके अपने डेबिट कार्ड को ब्लॉक कराया, साथ ही इसकी शिकायत उन्होंने साइबर सेल में की है।

आपको बता दें कि साइबर अपराधी लोगों के बैंक से पैसे उड़ाने के लिए रोजाना नए-नए तरीके अपना रहे हैं। कभी वो लोगों के परिचित बनकर खाते में पैसे भेजने का झांसा देकर खाते से रकम निकाल रहे हैं तो कभी सरकारी योजना का लाभ दिलाने के नाम पर लोगों से धोखाधड़ी कर रहे हैं।

ऐसे में आपको ऑनलाइन लेन-देन संभलकर करना चाहिए। मोबाइल पर किसी भी अंजान लिंक पर क्लिक नहीं करना चाहिए।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और खबरें