पहले हुआ फेसबुक पर लाइव फिर युवक ने लगा ली खुद को आग, ये थी वजह

0

चंदौसी स्थित वैष्णो विहार फेज-5 में मुरादाबाद की निजी एक्सपोर्ट फर्म के एक कर्मचारी ने घरेलु तनाव से ऊबकर अपनी जान दे दी। मृतक का नाम विशाल शर्मा (30)है। विशाल ने गुरुवार को अपने घर को बंद करके दिन में ढाई से तीन बजे के बीच एक कमरे में खुद को आग के हवाले कर दिया। विशाल को बचाने के लिए पुलिस तथा मोहल्ले वाले जब तक घर के अंदर घुसे तब तक वह जल चुका था और उसकी अंतिम सांसें चल रहीं थीं।

पुलिस ने तुरंत एंबुलेंस बुला कर उसे सरकारी अस्पताल भेजा जहां विशाल को मृत घोषित कर दिया गया। आत्महत्या से पहले विशाल ने गुरुवार की दोपहर पति-पत्नी के विवाद के समझौते का एक स्टांप पेपर भी अपलोड किया है। इसके बाद विशाल ने अपनी मृत्यु से कुछ पल पहले तक खुद को फेसबुक पर लाइव रखा।

यह लाइव 7.24 मिनट का है। जिसमें सबसे पहले विशाल ने अपनी पत्नी को कॉल किया। कॉल रिसीव नहीं हुआ तो इस बात का जिक्र करते हुए अपने लाइव में वह कहता है कि आज हमसे दगा करने वाले हमें बर्बाद करने वाले हमारा फोन नहीं उठा रहे है।  कंटीन्यू दूसरे कॉल पर व्यस्त हैं। फिर वह किसी ढाका जी को संबोधित करते हुए लाइन पर बने रहने को कह कर यह कहते हैं कि बहुत गुड न्यूज पांच मिनट के अंदर देता हूं।

इसी वीडियो में विशाल ने किसी को सर कह कर तीसरी कॉल लगाई और कोतवाली पुलिस का नंबर मांगा और कहा कि सर, शायद चंदौसी की सबसे बड़ी न्यूज है। वेट ऑन ली टू मिनट। यह लाइव जो भी देख रहे थे इसमें से ही किसी ने विशाल के परिजनों को फोन किया। इसके बाद उसने होली के दिन का एक और वीडियो अपलोड किया है। इसमें वह साले और ससुर को जिम्मेदार बताकर कहता है कि उसके पास जिंदगी खत्म करने के अलावा कोई चारा नहीं है। यह भी पता लगा कि उसने किसी अधिकारी को फोन कॉल करके खुद की आत्महत्या के बारे में अवगत कराया है। इसी के बाद चंदौसी के कोतवाली पुलिस को वह मोबाइल नंबर मिला जिसके जरिए विशाल ने आत्महत्या के संबंध में कॉल की थी। जब यह मोबाइल नंबर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक धर्मपाल सिंह को मिला तो उन्होंने तत्काल विशाल को कॉल मिलाई। विशाल ने खुद की जिंदगी खत्म करने की बात कही। कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक ने उसे समझाया पर वह नहीं माना।

कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक ने फोन पर कॉल जारी रखी और बात करते करते विशाल के घर पहुंच गए। घर अंदर से बंद पाया । बाहर भीड़ भी थी और धुआं भी उठ रहा था। घर को खुलवाने के लिए आधा घंटे मशक्कत की। दरवाजा और खिड़की तोड़ने में लगे  रहे पर दरवाजा नहीं टूटा तो एक बच्चे को शीशा तोड़कर अंदर भेजा।

जब तक अंदर पहुंचे तब तक युवक ने खुद को आग के हवाले कर लिया था। क्षण भर में उसका अधिकतर शरीर जल गया था। पुलिस और मोहल्ले वालों ने विशाल को एंबुलेंस से अस्पताल भेजा।अस्पताल पहुंचते-पहुंचते ही विशाल ने दम तोड़ दिया।



बता दें कि विशाल का दस वर्ष पहले प्रेम विवाह हुआ था। पत्नी  का नाम प्रगति है विशाल के दो बच्चे वंश (9) और दक्ष (6) हैं। उसकी ससुराल चंदौसी आवास विकास में ही है। पुलिस ने शव को पंचनामा भर कर पोस्टमार्टम को भेज दिया है।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और खबरें