आत्मनिर्भर बनेंगी महिलाएं – एम्पावर फाउंडेशन ने आयोजित किया “हर एंड नाउ” प्रोजेक्ट के पहले समूह का सम्मान समारोह

महिला उद्दमियों के आर्थिक सशक्तिकरण और उनके द्वारा चलाए गए “स्टार्टअप्स” को सक्षम बनाने के मिशन के साथ प्रोजेक्ट “हर एंड नाउ” की शुरुआत, जर्मन संस्था GIZ और भारत सरकार के कौशल विकास और उद्दमशीलता मंत्रालय (MoSDE) ने साथ मिलकर शुरू की है। इस प्रोजेक्ट के अंतर्गत, कौशल प्रमाणित महिलाओं को अपना खुदका व्यापार शुरू करने में मदद दी जा रही है।

प्रोजेक्ट “हर एंड नाउ” के पहले समूह का सम्मान समारोह गुरुवार 10 जून, 2021 को आयोजित किया गया जिसमे NSDC की मुख्य कार्यक्रम अधिकारी, सुश्री वंदना भटनागर, हर एंड नाउ प्रोजेक्ट के प्रमुख, श्री उल्लास मारार, हर एंड नाउ प्रोजेक्ट की सलाहकार – डेरिया बिशॉफ , संस्थापक और अध्यक्ष एम्पावर प्रगति, राजीव शर्मा, आईएएस, सीडीओ मुरादाबाद, श्री आनंद वर्धन, प्रधान अध्यापक आईटीआई सहारनपुर, श्री वीर पाल सिंह प्रमुख मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए।

उत्तर प्रदेश के 4 ज़िलों – मुरादाबाद, सहारनपुर, हापुड़ और बुलंदशहर से कुल 78 महिला प्रतिभागियों को सम्मानित किया गया, जिन्होंने 90 घंटों के कोर्स को सफलतापूर्वक पूरा किया।

सम्मान समारोह के अवसर पर बोलते हुए हर एंड नाउ प्रोजेक्ट के प्रमुख, श्री उल्लास मारार ने कहा कि ‘लचीलापन इस समूह का डीएनए है।’ विशेष रूप से कोरोना महामारी की दूसरी लहर के कारण कई बाधाओं का सामना करने के बाद भी, महिलाएं अपना भविष्य बदलने के लिए दृढ़ता से चुनौतियों का सामना करने के लिए उठ खड़ी हुई हैं।

उन्होंने यह भी उल्लेख किया कि सभी महिलाएं अब GIZ परिवार का हिस्सा हैं, और किसी भी आवश्यक या सहायता के लिए उनका हमेशा स्वागत किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × 5 =