सैफ अली खान भी हो चुके है नेपोटिज्म का शिकार, एक्टर ने किया बड़ा खुलासा

सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद से बॉलीवुड से लेकर आम आदमी तक नेपोटिज्म पर लगातार चर्चा हो रही है.

जहाँ एक तरफ आम लोग बॉलीवुड में फैले नेपोटिज्म के बहिष्कार की बात कर रहें है, वहीं बॉलीवुड इंडस्ट्री में कई हस्तियां भी अपने साथ हुए नेपोटिज्म के बारे में अब लोगों से खुल कर बात कर रहीं है.

इस लिस्ट में बॉलीवुड में अपनी पहचान बनाने वाले सैफ अली खान भी शामिल हो चुके है. सैफ अली खान ने नेपोटिज्म को लेकर कई चौकाने वाले खुलासे किये है.

सैफ ने एक वेबिनार में बताया- नेपोटिज्म का शिकार तो मैं भी हुआ हूं. लेकिन किसी को भी इसमें दिलचस्पी नहीं है. बिजनेस ऐसे ही चलता है. मैं अब नाम तो नहीं लूंगा लेकिन कई बार ऐसा होता था कि किसी के पिता का फोन आता था कि इसे फिल्म में मत लेना.

ये सब होता रहता है और मेरे साथ भी हुआ है.वैसे सैफ खुद इस नेपोटिज्म कल्चर से ज्यादा खुश नहीं हैं. वो इसे ठीक नहीं मानते हैं. इस बारे में बात करते हुए सैफ ने कहा- किसी विशेष वर्ग को ज्यादा मौके देना और ज्यादा टैलेंटेंड लोगों को छोड़ देना,ये सब ठीक नहीं है. नेपोटिज्म में सबसे बुरा ये होता है कि कई बार काबिल और बेहतरीन कलाकारों को छोड़ उन्हें ले लिया जाता है जो ज्यादा टैलेंटेंड नहीं होते.

अब मेरे पास इसका कोई जवाब तो नहीं है. लेकिन ऐसा होता तो है. इसके अलावा सुशांत सिंह राजपूत के निधन पर भी सैफ ने अपनी बात रखी. सैफ के अनुसार सुशांत खुद मानते थे कि इंडस्ट्री में नेपोटिज्म होता है.

सैफ कहते हैं- इंडस्ट्री में ये संघर्ष तो चलता रहता है. बस इंसान को हमेशा समान अवसर मिलने चाहिए. वहीं सैफ इस बात पर खुशी जाहिर की है कि कई आउटसाइडर्स ने अपने दम पर बॉलीवुड में एक अलग जगह बनाई है. वो पंकज त्रिपाठी और नवाज की सफलता को देख काफी खुश होते हैं.

आपको बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म दिल बेचारा में सैफ भी कैमियो रोल में नज़र आयंगे. ‘दिल बेचारा’ में सुशांत के साथ संजना सांघी भी नज़र आएंगी. ये फिल्म को 24 जुलाई को डिजन्नी हॉटस्टार प्लस पर रिलीज होगी. इस फिल्म को डिजन्नी हॉटस्टार प्लस के सब्सक्राइबर और नॉन सब्सक्राइबर दोनों ही देख सकेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ten + eleven =

You may have missed