विमान क्रैश: इंडोनेशिया का विमान समुद्र में हुआ क्रैश, बचाव कार्य में मिले लोगों के शव व कपड़ों के चीथड़े

इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता से एक बेहद दुखद खबर संज्ञान में आई है. यहां उड़ान भरने के बाद श्रीविजया एयर का विमान समुद्र में क्रैश हो गया. ये विमान जो दुर्घटनाग्रस्त हुआ है इसमे हादसे के समय 62 यात्री सवार थे. विमान की खोज के लिए बचाव अभियान आरम्भ किया गया है.

आपको बता दें कि विमान के क्रैश होने के एक दिन बाद इंडोनेशियाई बचाव दल ने जावा सागर से हादसे का शिकार हुए लोगों के शरीर और कपड़ों के चीथड़े निकाले हैं. ये जानकारी एसोसिएटेड प्रेस ने रविवार को दी है.

मिली जानकारी के अनुसार, यह विमान इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता से पोन्टिआनक जा रहा था. फ्लाइट संख्या एसजे182 ने दोपहर तकरीबन 1.56 बजे उड़ान भरी थी और महज एक घण्टे बाद 2.40 बजे उसका एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) से संपर्क टूट गया था.

सूत्रों की माने तो बचाव दल को बचाव कार्य के दौरान समुद्र में मलबा मिला है. लेकिन यह मलबा इसी विमान का है इसकी फिलहाल आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है.

कहा जा रहा है कि यात्रियों को ले जा रहा विमान जो क्षतिग्रस्त हुआ है वो बोइंग 737-500 विमान करीब 27 साल पुराना था. यह 2018 में जकार्ता में क्रैश हुए लाइन एयर के विमान बोइंग 737 मैक्स से भी काफी पुराना था.

इंडोनेशिया के परिवहन मंत्री बुदी कारया ने बताया, विमान में चालक दल के 12 सदस्यों सहित कुल 62 लोग सवार हैं, जिनमें दस बच्चे भी शामिल हैं. देश की खोज व बचाव एजेंसी बासरनास के प्रमुख बागुस पुरुहितो ने बताया कि करीब 50 टीमों को विमान खोज अभियान में लगाया गया है.

वहीं, कंपनी के प्रवक्ता ने बताया कि हम स्थिति पर करीब से नजर बनाए हुए हैं और उड़ान को लेकर और अधिक जानकारी जुटा रहे हैं. इस दौरन, स्थानीय मीडिया ने मछुआरों के हवाले से ये दावा किया है कि जकार्ता के उत्तर में विमान का मलबा मिला है. उधर, त्रिसुला तट रक्षक जहाज के कमांडर कैप्टन ईको सूर्या हादी ने भी समुद्र में मानव अंग और मलबा पाने की बात बतायी है.

गौरतलब है कि अक्तूबर 2018 में भी जकार्ता से उड़ान भरने के कुछ मिनटों बाद ही लायन एयर का बोइंग 737 मैक्स 8 विमान जावा समुद्र में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमें सवार 189 लोगों ने अपनी जान गवां दी थी.

मालूम हो कि शनिवार को लापता हुआ विमान स्वचालित उड़ान संचालन प्रणाली से लैस नहीं है, जो कि लायन एयर के विमान की दुर्घटना में अहम वजह बना था. श्रीविजय एयर इंडोनेशिया की सस्ती उड़ान सेवाओं में शामिल है जो कि दर्जनों घरेलू एवं अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का संचालन करती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 3 =

You may have missed