पाकिस्तान के हिंदू मंदिर पर हमले में पुलिस ने 20 लोगों को किया गिरफ्तार, 150 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज

सार

न्यायालय के आदेश के बाद पुलिस वीडियो फुटेज के जरिए संदिग्धों की पहचान कर रही है

विस्तार

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में पुलिस ने शनिवार को देश के एक रिमोट शहर में मंदिर पर हमला करने के आरोप में 20 लोगों को गिरफ्तार एवं 150 से अधिक लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर दिया है। शुक्रवार को देश के सर्वोच्च न्यायालय ने हमले को रोकने में असफल रहने के लिए पुलिस अधिकारियों की खिंचाई भी की और दोषियों की गिरफ्तारी का पूर्ण आदेश दिया है। जिसके बाद से पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की है।

इस वजह से हुआ था मंदिर पर हमला

अदालत ने एक 8 वर्षीय हिंदू लड़के जिसने एक स्थानीय मदरसा में कथित तौर पर पेशाब करने के आरोप में गिरफ्तार किया था। उस को रिहा कर दिया। जिसके विरोध में प्रांत के रहीमयार खान जिले के भोग इलाके में सैकड़ों लोगों के साथ लाठी, पत्थर लेकर मंदिर की तरफ बढ़े और वहां पर हमला किया। मंदिर के कुछ हिस्सों को भी जला दिया और मूर्तियों को काफी नुकसान भी पहुंचा दिया।

जिला के पुलिस अधिकारी का बयान

रहीम यार खान के जिला पुलिस अधिकारी असद सरफराज ने संवाददाताओं से बातचीत के दौरान उन्हें यह बताया कि हमें अभी तक भोग में मंदिर पर हमला करने के कथित रूप से शामिल 20 से अधिक संदिग्धों को अपनी गिरफ्त में ले लिया है। पुलिस एक वीडियो फुटेज के जरिए संदिग्धों की पहचान कर उनकी तलाश कर रही है। इसलिए आने वाले दिनों में कुछ और गिरफ्तारियां होने की भी बात की गई है। वही इस घटनाक्रम में शामिल होने के लिए कम से कम 150 से ज्यादा लोगों के खिलाफ आतंकवाद और पाकिस्तान दंड संहिता की अन्य धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। पुलिस ने कहा कि इस अपराध में शामिल हर संदिग्ध को गिरफ्तार करेंगे। जल्द ही वह अदालत के आदेश पर मंदिर के जीर्णोद्धार का काम भी शुरू कर देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − nineteen =