खुद की जान गवांकर SO महेश यादव ने ऐसे बचाई अन्य पुलिसकर्मियों की जान

कानपुरः उत्तर प्रदेश के कानपुर में हुए एनकाउंटर में पुलिस के 8 जवानों ने अपनी शहादत दी. इन 8 शहीद जवानों में से थाने के एसओ महेश यादव भी शामिल है. कहा जा रहा है कि जब अपराधियों ने गोलियां चलानी शुरू की थी, उसी दौरान बीच एनकाउंटर में एसओ महेश यादव की एक फोन कॉल से अन्य पुलिसकर्मियों की जान बच गयी थी. अपराधियों की गोलियों से बचते हुए एसओ महेश यादव ने किसी तरह थाने के एएसआई को फोन किया था और कहा था, हैलो, बदमाशों ने हम लोगों को घेर लिया है. गोलियां चल रही हैं. अब बचना मुश्किल है. जल्द फोर्स भेजें.

VIDEO: हिस्ट्रीशीटर Vikas Dubey के घर पर गरजा बुलडोजर…

एसओ महेश की कॉल अटैंड करने के बाद मौके पर भारी संख्या में पुलिस दल को भेजा गया था. जिसके वजह से कई अन्य पुलिसकर्मियों की जान बच गयी थी. आपको बता दें कि हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने में एसओ महेश यादव सबसे आगे थे. पुलिस दल पर गोलिया चलते देख महेश ने तुरंत इसकी खबर एसएसआई को दी थी. खबर देने के बाद एसओ महेश यादव को गोली लग गयी थी और वो वहीं गिर गए थे. बदमाशों ने उनकी पीठ पर दर्जनों गोलियां चलाई थी. शहीद महेश यादव कुछ समय पहले तक पूर्व एसएसपी अनंत देव के पीआरओ थे. अनंत देव के ट्रांसफर के बाद महेश को चौबेपुर थानाध्यक्ष बनाया गया था. थानेदारी का उनका पहला चार्ज था.

इस एनकाउंटर के बाद से ही पुलिस की कई टीमें विकास दुबे की खोजबीन कर रहीं हैं. इसके अलावा पुलिस की ओर से ये ऐलान भी किया गया है कि विकास की सूचना देने वाले को 50 हजार रुपये इनाम में दिए जाएंगे. गौरतलब है कि हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे समेत 35 लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई है. हत्या, लूट, 7 सीएलए, सरकारी कार्य में बाधा समेत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है.

ये भी देखें : 26 वर्ष डॉक्टर को गवानी पड़ी अपनी जान,अंतिम सांस तक कहते रहे लेकिन किसी ने नहीं सुनी बात

ये भी देखें : भावुक हुई शहीद संतोष बाबू की पत्नी , पीएम मोदी से कही ये बात

ये भी देखें : दो लड़कियों को गोली मारकर हमलावर हुए फरार,एक की हालत गंभीर

ये भी देखें : हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने गए पुलिसकर्मियों पर ताबड़तोड़ फायरिंग,8 पुलिसकर्मी शाहिद

ये भी देखें : राजधानी में सामने आए 37 नए कोरोना मरीज, कंटेनमेंट जोन में शामिल हुए 12 नए क्षेत्र

ये भी देखें : असम का हाल हुआ बेहाल,बाढ़ ने ले ली 34 लोगों की जान;16 लाख से ज्यादा प्रभावित

ये भी देखें : इंडियन आइडल की महिला कंटेस्टेंट को लेकर भाग गया शख्स

ये भी देखें : दर्दनाक घटना : भूस्खलन के कारण हुई 50 लोगों की मौत,कई मजदूरों के दबे होने की आशंका

ये भी देखें : आखिर कैसे सुशांत के निधन से पहले ही अपडेट हो गया था उनका विकीपीडिया पेज?

You may have missed