स्वास्थ्य विभाग ने कसी कमर,वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाने वालों पर होगी कानूनी कार्रवाई

स्वास्थ्य विभाग ने कसी कमर,वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाने वालों पर होगी कानूनी कार्रवाई

कोरोना जैसी खतरनाक बीमारी रुकने का नाम नहीं ले रही।जिसके चलते वैज्ञानिक वैक्सीन बनाने में जुटे हुए है।वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग वैक्सीन को लेकर अफवाह फैला रहे हैं।लेकिन अब अफवाह फैलाने वालों पर कानूनी कार्रवाई होगी। इनकी पहचान के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कमर कस ली है। हेल्थ वर्कर और टीकाकरण सेंटर के नोडल अधिकारियों को अफवाह फैलाने वालों की पहचान की जिम्मेदारी दी गई है।

सूचना से पता चला है कि लखनऊ में 16 जनवरी से टीकाकरण होना है। पहले चरण के तहत हेल्थ वर्कर को टीकाकरण लगाया जाएगा। इन सबके बीच वैक्सीन को लेकर अफवाहों का दौर भी शुरू हो गया है। जिसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने अलग से तैयारी कर ली है। टीकाकरण सेंटर के नोडल प्रभारियों पर भ्रम फैलाने वालों पर शिकंजा कसने का जिम्मा सौंपा गया है। साथ ही लोगों की शंका और समाधान करने के भी निर्देश दिए गए हैं।

हेल्थ वर्कर पर जिम्मेदारी

बता दें कि आशा, एएनएम, हेल्थ वर्कर और सभी टीकाकरण सेंटर को अलर्ट कर दिया गया है। टीकाकरण सेंटर के नोडल अफसर को भी अफवाह का तुरंत निस्तारण करने को कहा गया है। कहा जा रहा है कि भम्र फैलाने वालों पर कानूनी कार्रवाही होगी। यूनीसेफ भी इसमें मदद करेगी। वैक्सीन को लेकर किसी के मन में भ्रम की स्थिति नहीं होनी चाहिए। वैज्ञानिकों की कड़ी मशक्कत, क्लीनिकल ट्रॉयल के बाद वैक्सीन हम तक पहुंची है। यह वायरस के खिलाफ लड़ाई में अहम हथियार है।

You may have missed