ब्रेकिंग: CBSE की परीक्षाओं को लेकर सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार से की ये बड़ी अपील

देश में कोरोना के मामलों में तेजी से उछाल आया है. देश की राजधानी दिल्ली में भी कोरोना की दूसरी लहर बहुत ही तेजी से अपने पैर पसार रहीं हैं. इस बीच कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने चिंता जाहिर करते हुए केंद्र सरकार से सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने की मांग की है.
आपको बता दें कि मंगलवार को एक बार फिर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कांफ्रेंस की. उन्होंने देश की मौजूदा स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि इस बार की कोरोना लहर बहुत ज्यादा खतरनाक है. इस लहर में युवा और बच्चे ज्यादा प्रभावित हो रहे हैं. इस बार 65 प्रतिशत मरीज 45 साल से कम आयु वाले है.
इसके साथ ही सीएम केजरीवाल ने ये अपील की है कि आप जब भी घर से बाहर निकलें कोविड दिशानिर्देशों का पालन जरूर करें. उन्होंने कहा कि सरकारी अस्पतालों में 24 घंटे कोरोना के टीके लगाए जा रहे हैं. इसलिए अगर आप 45 साल से ऊपर हैं तो इसका टीका जरूर लगवाएं.
वहीं, सीएम केजरीवाल ने CBSE की बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने की मांग करते हुए कहा कि दिल्ली के 6 लाख बच्चे CBSE की परीक्षा में बैठेंगे. एक लाख के करीब अध्यापक इसमें शामिल होंगे. इससे बड़े स्तर पर कोरोना फैल सकता है. लिहाजा मैं केंद्र सरकार से अपील करुंगा कि CBSE की परीक्षाएं रद्द की जाए. उन्होंने कहा कि कुछ और तरीका निकाला जाए या इंटरनल असेसमेंट के आधार पर बच्चों को पास किया जाए लेकिन CBSE के एग्जाम कैंसिल करना बहुत जरूरी हैं. कई देशों ने अपने एग्जाम कैंसिल कर दिए हैं कई राज्य सरकारों ने अपने बोर्ड के एग्जाम कैंसिल कर दिए हैं इसलिए CBSE के एग्जाम भी कैंसिल किए जाएं.
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में कोरोना के खिलाफ सरकार की तैयारियों की जानकारी देते हुए बताया कि ताजा स्थिति को देखते हुए हमने अस्पतालों के साथ बैंक्वेट हॉल को अटैच किया है. जो कम सीरियस मरीज होंगे उनको बैंकट हॉल में शिफ्ट कर देंगे और हॉस्पिटल में बहुत सीरियस मरीज का इलाज करेंगे.
सीएम ने बताया कि कुछ अस्पतालों को 100% कोविड घोषित किया है. एक-एक मरीज़ को देख कर यह चेक कर रहे हैं कि अगर वह मरीज घर में ट्रीट हो सकता है तो मरीज से निवेदन किया जा रहा है कि अस्पताल का बेड खाली कर दीजिए.
उन्होंने कहा कि घर पर भेज कर हम अपना पल्ला नहीं झाड़ रहे बल्कि आपके घर पर लगातार मॉनिटरिंग होगी और डॉक्टर लगातार फोन करेंगे. आपको घर भेजते समय पल्स ऑक्सीमीटर देकर भेजेंगे और जरा सी भी परेशानी हुई तो अस्पताल शिफ्ट कर देंगे.
मालूम हो कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली वासिय़ों से अधिक से अधिक संख्या में प्लाज्मा डोनेशन की मांग भी की है. इस सिलसिले में सीएम ने कहा कि दिल्ली के सभी लोगों से अपील है कि पिछली बार जब संक्रमण बहुत फैला था तब आपने बढ़-चढ़कर प्लाज्मा डोनेट किया था, लेकिन जैसे संक्रमण कम हुआ तो लोगों ने प्लाज्मा डोनेट करना बहुत ही कम कर दिया. अब प्लाज्मा बहुत कम है और डिमांड बहुत ज्यादा आ रही है लोगों से अपील है जो लोग कोरोना संक्रमण से ठीक हो गए हैं वह प्लाज्मा डोनेट जरूर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one + 4 =

You may have missed