बीजेपी सांसद हेमा मालिनी ने किसानों को लेकर दिया ब्यान, बोली- ‘नहीं पता कानून में समस्या, किसी के कहने पर कर रहे आंदोलन’

नए कृषि कानूनों के विरोध में देश के कई हिस्सों में किसान आंदोलन कर रहे रहे हैं. वहीं, किसान आंदोलन को लेकर भारतीय जनता पार्टी के कई सदस्य ब्यान दे चुके हैं. अब इस कड़ी में बीजेपी सांसद हेमा मालिनी भी शामिल हो गयी है. दरअसल सांसद हेमा मालिनी ने आंदोलन कर रहे किसानों पर सवाल उठाते हुए कहा कि जो किसान आंदोलन कर रहे हैं, उन्हें कानून में समस्या ही नहीं पता है.

आपको बता दें कि भाजपा सांसद हेमा मालिनी 10 महीने बाद अपने संसदीय क्षेत्र मथुरा वापस आईं हैं. बुधवार को वृंदावन स्थित अपने आवास पर प्रेसवार्ता के बीच हेमा मालिनी ने दिल्ली में धरना दे रहे किसानों को लेकर बयान दिया है.

समाचार एजेंसी एनआई के मुताबिक, हेमा मालिनी ने कहा है कि धरने पर बैठे किसानों को यह भी नहीं पता है कि उन्हें क्या चाहिए और कृषि कानूनों के साथ असली दिक्कत क्या है. इससे यह स्पष्ट है कि उन्हें किसी ने कहा और वे लोग धरने पर बैठ गए.

मालूम हो कि सांसद हेमा मालिनी मार्च माह में लॉकडाउन के कारण बीते 10 माह से मथुरा नहीं आई थीं. लेकिन बीच बीच में वह पार्टी नेता और अपने प्रतिनिधि से जानकारी लेती रहीं.

गौरतलब है कि वृंदावन पहुंचने पर हेमा मालिनी ने किसान आंदोलन को लेकर विपक्ष पर जनता को भ्रमित करने का आरोप लगाया है. इस सिलसिले में उन्होंने कहा कि नए कृषि कानूनों में कोई कमी नहीं है. लेकिन विपक्ष के बहकावे में आकर लोग आंदोलन कर रहे हैं.

इतना ही नहीं कोरोना वैक्सीन को लेकर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव के द्वारा दिये गये बयान को लेकर हेमा मालिनी ने कहा कि विपक्ष का काम हमारी सरकार के हर अच्छे काम पर विपरित ही बोलना है. केंद्र सरकार विपक्ष की परवाह किए बिना हर मुद्दे पर अडिग खड़ी है. सासंद ने कहा कि मुझे इंतजार है कि कोरोना टीका लगवाने के लिए मेरा नंबर कब आएगा?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 − 12 =

You may have missed