आखिर क्यों अपने नाम पर रजिस्टर्ड सिम कार्ड का इस्तेमाल नहीं करते थे सुशांत सिंह राजपूत?


दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में अब बिहार पुलिस जांच पड़ताल में जुटी हुई है. पिछले दिनों सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने पटना में अभिनेत्री और सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी. इसके बाद से ही बिहार पुलिस सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में जांच पड़ताल में जुटी हुई है.

इसी बीच बिहार पुलिस ने ये खुलासा किया है कि सुशांत सिंह राजपूत अपने नाम पर रजिस्टर्ड सिम कार्ड का इस्तेमाल नहीं करते थे. इसकी जानकारी उनके मोबाइल फोन कॉल डिटेल रिकॉर्ड्स ट्रैक करने के बाद हुई. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक सुशांत द्वारा जिन सिम कार्ड का इस्तेमाल किया जा रहा था, उनमें से कोई भी उनके नाम पर पंजीकृत नहीं था. उनमें से एक सिम कार्ड सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त सिद्धार्थ पिठानी के नाम पर पंजीकृत था. अब बिहार पुलिस कॉल डिटेल रिकॉर्ड्स (CDRs) ट्रैक कर रही है.

आपको बता दें कि बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का शव 14 जून को उनके बांद्रा स्थित घर में मिला था. अब इस मामले में बिहार पुलिस उनकी पूर्व मैनेजर दिशा सालियन के परिवार वालों से भी पूछताछ कर रही है. गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के एक हफ्ते पहले ही दिशा सालियन ने एक बिल्डिंग से कूदकर आत्महत्या कर ली थी. इससे इतर लोग बिहार पुलिस की मदद ना करने की वजह से मुंबई पुलिस की लगातार आलोचना कर रहे है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बिहार पुलिस की टीम ने मालवणी थाने में दिशा सालियन की मौत से संबंधित पूछताछ की. पहले तो मुंबई पुलिस के जांच अधिकारी ने सभी दस्तावेज साझा करने की बात कही लेकिन चीजें बदल गईं.

बता दें कि बिहार पुलिस की टीम रविवार को दिशा के परिवार के सदस्यों के बयान लेने के लिए उनके घर पहुंची थी लेकिन परिवार का कोई सदस्य नहीं मिला. इसके अलावा बिहार पुलिस अब उस चाबी वाले को ढूंढ रही है जिसने सुशांत सिंह राजपूत के कमरे का दरवाजा खोला था. साथ ही साथ बिहार पुलिस सुशांत की मौत के अन्य पहलूओं पर भी जांच कर रही है