जागरुकता: दोनों हाथ नहीं तो इस शख्स ने जांघ पर लगवाई वैक्सीन, अस्पताल प्रशासन ने कही ये बात

बीते एक साल से भी ज्यादा समय से फैले जानलेवा कोरोना वायरस को मात देने के लिए सरकार ने वैक्सीनेशन अभियान चलाया है. जिसके तहत सरकार लोगों से से अपील कर रही है कि सब कोरोना का टीका जरूर लगवाए. कोरोना से गंभीर तौर पर बीमार ना होने से बचने का ये एकमात्र उपाय माना जा रहा है.
लेकिन इस बीच कई लोग ऐसे भी है जो कोरोना वैक्सीन को लेकर तरह- तरह की भ्रांतियां लोगों में फैला रहे हैं. जिसके चलते कुछ लोगों का रवैय्या वैक्सीन को लेकर उदासीनता वाला है.
तो वहीं कुछ लोग इतने जागरुक भी है जो इस वैक्सीनेशन अभियान में हिस्सा ले रहे हैं, और बिना किसी अफवाह पर ध्यान दिए कोरोना का टीका लगवा रहे हैं.
ऐसी ही एक शख्स है गुलशन. आपको बता दें कि गुलशन लोहार चाईबासा के रहने वाले है. ये अपने साहस और समझदारी से बाकी लोगों के लिए प्रेरणा भी बन गए हैं.


दरअसल गुलशन लोहार के दोनों हाथ नहीं हैं. लेकिन उन्होंने फिर भी एक जागरूक नागरिक का उदाहरण बनकर बिना किसी डर के वैक्सीन लगवाई. गुलशन लोहार के दोनों हाथ नहीं हैं तो उन्होंने अपनी जांघ पर वैक्सीन लगवाई है. जिसे देखकर आसपास मौजूद स्वास्थ्यकर्मियों ने भी उनकी प्रशंसा की है.
मंगलवार के दिन जब गुलशन लोहार कोरोना वैक्सीन लगवाने पहुंचे तो डॉक्टर असमंजस में पड़ गए कि वैक्सीन कहां पर लगाये क्योंकि गुलशन के दोनों ही हाथ नहीं हैं, और कोरोना वैक्सीन सबके हाथों पर ही लगाई जा रही है. इस पर गुलशन ने स्वास्थ्यकर्मियों से कहा कि वे उसकी जांघ पर वैक्सीन लगा दें, डॉक्टर ने यही किया.
डॉक्टरों ने गुलशन लोहार के जांघ पर वैक्सीन लगायी. टीका लेने के बाद गुलशन ने बताया कि उन्हें कोई दिक्कत नहीं हुई है. जो लोग अफवाहों के कारण वैक्सीन नहीं लगवा रहे हैं वे सब वैक्सीन लगवाएं. तभी हम कोरोना महामारी पर विजय हांसिल कर पाएंगे.
मौके पर मौजूद डॉ. नरेन्द्र सुम्ब्रई ने कहा कि कोरोना रोधी टीका सुरक्षित है, हर नागरिक को अपनी बारी आने पर वैक्सीन जरूर लेनी चाहिए. दोनों हाथों से दिव्यांग गुलशन लोहार ने कोविड वैक्सीन का टीका लेकर दूसरों के लिए एक मिसाल पेश की है. हाथ के बजाय उन्हें पैर के जांघ पर टीका दिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × three =