ios स्टोर से हटाए 30 हज़ार ऐप, एप्पल ने की इस गेमिंग इंडस्ट्री के ऊपर कार्येवाही

चाइनीज ऐप स्टोर से एप्पल ने शनिवार को करीब 29,800 से ज्यादा ऐप्स हटा दिए है, जिसमें से 26 हजार से ज्यादा ऐप्स गेमिंग के हैं ।इस बात की जानकारी Qimai ने अपनी एक रिपोर्ट में दी। एप्पल ने यह कार्रवाई चीनी अथॉरिटी द्वारा बिना लाइसेंस प्राप्त किए गए ऐप्स को लेकर किया है। लेकिन अभी तक एप्पल की तरफ से कोई जानकारी नहीं आई है। इसी साल फरवरी में ऐप्पल ने पब्लिशर्स को जून तक की डेडलाइन दी थी कि वो स्थानीय सरकार से जारी लाइसेंस नंबर के बारे में जानकारी दें ताकि यूजर्स को मेक इन-ऐप खरीदारी की सुविधा मिल सके।चीन के एन्ड्रॉयड ऐप स्टोर बहुत पहले से ही इन रेग्युलेशन का पालन करता है।इस साल ही एप्पल इस अनुपालन के लिए सख्त हुआ है इस बार की जानकारी अभी तक साफ नहीं हुई है।

पिछले महीने भी हटाए गए थे ढाई हजार ऐप्स

2,500 से ज्यादा टाइटल्स को अपने ऐप स्टोर से इस स्मार्टफोन निर्माता कंपनी ने जुलाई के पहले सप्ताह में हटा लिया था। जिनमें Zynga और Supercell जैसे डेवलपर्स के गेमिंग ऐप्स भी शामिल थे।इस बात की जानकारी रिसर्च फर्म सेंसर टावर ने दी।

गेमिंग इंडस्ट्रीज पर चीन की सरकार सख्त नियामों को लागू करने पर जोर देती रही है ताकि सेंसिटिव जानकारी व कॉन्टेन्ट पर लगाम लगाई जा सके।जो ​गेमिंग ऐप्स इन-ऐप खरीदारी की सुविधा देते हैं, उनकी अप्रुवल प्रोसेस बेहद जटिल है। यही कारण है कि चीन के गेमिंग ऐप डेवलपर्स के लिए समस्या खड़ी हो गई है।बता दें कि चीन में दुनिया की सबसे बड़े गेम डेवलपर्स की इंडस्ट्री मौजूद हैं।

सूचना से पता चला है कि इस कार्रवाई से छोटे और मध्यम स्तर के डेवलपर्स पर सबसे ज्यादा असर पड़ेगा।उनकी कमाई कम होगी। लेकिन अब बिजनेस लाइसेंस प्राप्त करने की जटिलताओं से चीन में iOS गेम इंडस्ट्री को भी नुकसान हो रहा है।

ऐप्पल ने दी थी 30 जून तक की डेडलाइन

फरवरी 2020 में एप्पल ने रिव्यू पेज पर एक मैसेज अपडेट करके बताया था कि चीन के कानून के तहत इन ऐप्स को ‘जनरल ए​डमिनिस्ट्रेशन ऑफ प्रेस एंड पब्लिशिंग हाउस’ से लाइसेंस प्राप्त करना अनिवार्य है।इसी को ध्यान में रखते हुए आप 30 जून 2020 तक इस लाइसेंस को उपलब्ध कराएं। मेनलैंड चाइना में मौजूदा सभी ऐप्स का अप्रुवल नंबर अनिवार्य है।